120 टीम तीन लाख की आबादी में खोजेंगी टीबी के मरीज

दो से 11 नवम्बर तक चलेगा सक्रिय टीबी रोगी खोजी अभियान , टीबी रोगियों को चिन्हित करने के लिए कर्मियों को दिये टिप्स .

महराजगंज । जिले में गठित 120 टीम तीन लाख की आबादी में टीबी रोगी खोजेंगी। इसके लिए सक्रिय टीबी रोगी खोजी यह अभियान आगामी दो से 11 नवम्बर तक चलेगा। इसके लिए तैयारी कर ली गयी है। अभियान में लगी टीम के सदस्यों को आवश्यक टिप्स दिए जा चुके हैं ।
उक्त जानकारी देते हुए जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि अभियान में लगी प्रत्येक टीम में तीन-तीन लोग शामिल हैं, जबकि पर्यवेक्षण की जिम्मेदारी 24 पर्यवेक्षकों को सौंपी गई है । एसीएमओ डॉ. श्रीवास्तव ने कहा कि सघन टीबी रोगी खोजी अभियान के दौरान टीबी के जितने भी मरीज चिन्हित किए जाएंगे, उन सभी मरीजों का उचित इलाज किया जाएगा।

अभियान में लगे पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण आज

राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के जिला समन्वयक हरिशंकर त्रिपाठी ने बताया कि अभियान का पर्यवेक्षक करने वाले पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण 28 अक्टूबर को राजकीय टीबी अस्पताल में आयोजित होगा। प्रशिक्षण में नामित पर्यवेक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य है।

टीबी रोग के लक्षण

-14 दिनों से ज्यादा का बुखार
– सांस का फूलना।
-सीने में दर्द रहना ।
-खाँसी के साथ मुंह से खून आना।
-भूख कम लगना।
-वजन का घटना।
-बच्चों में वजन का न बढ़ना।
-रात में पसीना आना।

गत वर्ष अभियान में खोजे गए थे 156 टीबी मरीज

जिला समन्वयक हरिशंकर त्रिपाठी ने बताया कि पिछले साल 10 से 19 अक्टूबर 2019 तक चले अभियान में कुल 156 टीबी मरीज चिन्हित किए गए थे, जिनको उचित इलाज दिया गया।

1028 टीबी रोगियों का चल रहा इलाज

जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया वर्तमान समय में जिले में कुल 1028 टीबी रोगियों का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 में कुल 3484 टीबी रोगी चिन्हित किए गए थे, इन सभी की एचआईवी जांच भी हुई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button