” परिवार नियोजन के लिए 39 महिलाओं ने कराई नसबंदी”

दो बच्चों में अंतर को 271 महिलाओं को भाया अंतरा इंजेक्शन , जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा के तहत आयोजित गतिविधियां

कुशीनगर । बीते 11 से 31 जुलाई तक चले जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा में जहां 39 महिलाओं ने परिवार नियोजन की स्थायी राह चुन कर नसबंदी करा ली, वहीं दो बच्चों में अंतर के लिए 271 महिलाओं ने त्रैमासिक अंतरा इंजेक्शन भी अपनाया। इसकी जानकारी देते हुए परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. संजय कुमार गुप्ता ने बताया कि जिले में ‘आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी’ थीम के साथ विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा मनाया गया।
पखवाड़े में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने योग्य दंपत्तियों को परिवार नियोजन के अस्थायी या स्थायी साधन अपनाने के लिए प्रेरित किया गया। जिसकी वजह से तकरीबन 7525 छाया टेबलेट को परिवार नियोजन के लिए अपनाया।पखवाड़े में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर जहां खाँसी, बुखार,जुकाम के लक्षण वालों की स्क्रीनिंग की गयी और लक्षणरहित दंपत्तियों से संपर्क कर उन्हें 72222 कंडोम, 5312 ईसी पिल्स तथा 9843 माला एन की गोली दी गयी। इसके अलावा 816 महिलाओं ने आईयूसीडी तथा 397 पीपीआईयूसीडी अपनाया। परिवार नियोजन कार्यक्रम एवं सामग्री प्रबंधक संजीव जायसवाल ने बताया कि स्वास्थ्य इकाईयों पर समुदाय में गर्भ निरोधक साधनों के वितरण में शारीरिक दूरी का पूरी तरह से पालन किया गया।
कंडोम और गर्भ निरोधक गोली के अतिरिक्त पैकेट (कम से कम एक महीने की सामग्री) लाथार्थियों को उपलब्ध कराई गई। पखवाड़े के दौरान लाभार्थियों को गर्भ निरोधक इंजेक्शन अंतरा और प्रसव पश्चात आईयूसीडी सेवाओं को अपनाने के लिए विशेष तौर पर प्रेरित किया गया। पखवाड़े में परिवार नियोजन काउंसलिंग एवं परिवार नियोजन के विभिन्न स्थाई और अस्थाई गर्भ निरोधक साधनों की (बास्केट ऑफ च्वाइस) जानकारी व उनके सही उपयोग के बारे में बताया गया। कम आयु में विवाह के दुष्परिणाम, देर से विवाह और विवाह के बाद पहले बच्चे का जन्म देर से और दो बच्चों में अंतराल रखने की आवश्यकता पर बल दिया गया।
———-

अब हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर पर भी मिलेगी परिवार नियोजन सामग्री

परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी ने बताया कि अब जिले में संचालित 26 हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर पर भी परिवार नियोजन सामग्री उपलब्ध करायी जाएगी। इच्छुक दंपति बास्केट आफ च्वायस के आधार पर अपने नजदीक के हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर से निःशुल्क सामग्री प्राप्त कर सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button