लखनऊ में माँ- बेटी आत्मदाह प्रयास मामले में 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड, एमआईएम नेता कादिर समेत दो गिरफ्तार

लखनऊ । यूपी की राजधानी लखनऊ में लोकभवन के सामने मां-बेटी आत्मदाह के मामले में ड्यूटी में लापरवाही पाए जाने वाले 4 पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया है।  इसके साथ ही एमआईएम नेता कादिर खान और कांग्रेस नेता अनूप पटेल सहित चार मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एमआईएम नेता कादिर खान समेत एक महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है।

शनिवार को रिजर्व पुलिस लाइन में पुलिस आयुक्त और संयुक्त पुलिस आयुक्त ला एंड आर्डर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि लोक भवन पर आत्मदाह की घटना में पता चला है कि यह एक आपराधिक साजिश के अनुसार किया गया था जिसमें कुछ लोगों ने महिलाओं को उकसाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। हमने एमआईएम नेता कादिर खान और कांग्रेस नेता अनूप पटेल सहित 4 पर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

आत्मदाह करने वाली महिला की हालत नाजुक बनी हुई है, जबकि बेटी की हालत सही है। वरिष्ठ डाॅक्टरों की निगरानी में लगातार इलाज चल रहा है। शासन व पुलिस के वरिष्ठ अफसर भी लगातार डाॅक्टरों के संपर्क में हैं। सिविल अस्पताल के निदेशक डॉ डीएस नेगी ने बताया कि बर्न वार्ड में अमेठी की महिला की स्थिति बहुत गंभीर है। क्योंकि वह 90 फीसदी तक जल चुकी है। जबकि उसकी बेटी की हालत में पहले से काफी सुधार है।

लखनऊ में लोकभवन के सामने आत्मदाह का प्रयास: अमेठी में तीन पुलिसकर्मी निलंबित

अमेठी/लखनऊ (उप्र) । अमेठी की रहने वाली एक महिला और उसकी बेटी द्वारा लखनऊ में आत्मदाह की कोशिश करने के मामले में अमेठी में जामो थाने के प्रभारी निरीक्षक सहित तीन पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। भूमि विवाद के मामले में पुलिस की ओर से कथित तौर पर कार्रवाई नहीं किए जाने के विरोध में शुक्रवार को साफिया और उसकी बेटी गुड़िया ने यहां लोकभवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया था। जिलाधिकारी अरूण कुमार एवं पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग ने बताया कि कि साफिया का उसके पड़ोसी से नाली को लेकर कोई विवाद था। इस मामले में नौ जुलाई को मारपीट भी हुई थी।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने इस मामले में नियमानुसार कार्रवाई की थी। गर्ग ने बताया कि गुड़िया एवं उसकी मां ने आत्मदाह के प्रयास से संबंधित कोई पत्र नहीं दिया था और न ही खुफिया विभाग के पास इसकी कोई जानकारी थी। उन्होंने बताया कि इस मामले में थाना प्रभारी जामो रतन सिंह, एक उप निरीक्षक एवं एक सिपाही को निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक को सौंपी गयी है और जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।

पुलिस ने शुक्रवार को बताया था कि घटना शुक्रवार शाम लगभग साढ़े पांच बजे की है, जब अमेठी की दो महिलाओं ने खुद पर मिट्टी का तेल छिड़का और खुद को आग लगा ली। उन्होंने बताया कि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी तुरंत उनकी ओर भागे। इनमें से एक महिला का वीडयो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें वह आग की लपटों में भागती हुई नजर आ रही है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों को सिविल अस्पताल की बर्न यूनिट में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत गंभीर बताई जाती है।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मिली जानकारी के मुताबिक, अमेठी के जामो क्षेत्र में किसी विवाद के चलते महिलाओं ने यह कदम उठाया। दोनों महिलाएं यहां आयीं। उन्होंने किसी से संपर्क नहीं किया और सीधे लोकभवन के सामने पहुंचकर आत्मदाह का प्रयास किया। मामले की जांच की जा रही है। यह घटना अत्यंत कड़ी सुरक्षा वाली जगह पर हुई, जहां विधान भवन और लोकभवन हैं। लोक भवन में ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कार्यालय है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button