“सँवरेगी 12 स्कूल्स और 12 आंगनबाड़ी केन्द्रों की सूरत”

नन्हें-मुन्ने बच्चों के सेहत,सुपोषण के साथ सर्वागीण विकास पर होगा विशेष जोर,सभी 12 मॉडल स्कूल्स में बच्चों को मिलेगी गुणात्मक शिक्षा.

महराजगंज । जनपद में 12 स्कूल्स तथा 12 आंगनबाड़ी केन्द्रों की सूरत सँवारी जाएगी। इसके लिए कवायद शुरू दी गयी है। चयनित स्कूल्स तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों का कायाकल्प करने के लिए रूप रेखा तय की जा चुकी है। चयनित स्कूल्स तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों को मॉडल केन्द्र के रूप में जाना जाएगा। इसकी यह जानकारी देते हुए मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने बताया कि जिले में 12-12 स्कूल्स तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों को विभिन्न सुविधाओं तथा संसाधनों से लैस करके मॉडल केन्द्र बनाया जाएगा। इसके लिए सभी 12 ब्लॉक्स से एक-एक स्कूल तथा आंगनबाड़ी केन्द्र चयनित किए गए हैं।

सभी माडल स्कूल, मिलेगी गुणात्मक शिक्षा

सीडीओ उन्होंने बताया कि सभी 12 मॉडल स्कूल्स में बच्चों को गुणात्मक शिक्षा मिलेगी। इसके लिए सभी मॉडल विद्यालय स्मार्ट क्लास के साथ- साथ शुद्ध पेयजल, बालक ,बालिका तथा दिव्यांग बच्चों के लिए शौचालय, रनिंग वाटर, हैंड वॉशिंग, ब्लैक बार्ड,सेनेटरी पैड वेडिंग मशीन, सेनेटरी पैड डिस्पोजल मशीन, बिजली, पंखा, एलईडी प्रोजेक्टर, लाइब्रेरी, डायनिंग हाल, शिक्षक-छात्र अनुपात, खेल मैदान आदि सुविधाओं से लैस किए जाएंगे।

ऐसे होगा मॉडल आंगनबाड़ी केन्द्रों का कायाकल्प

सीडीओ ने बताया कि चयनित माडल आंगनबाड़ी केन्द्रों पर नन्नें-मुन्ने बच्चों के सेहत, सुपोषण के साथ सर्वागीण विकास पर विशेष जोर दिया जाएगा। इन केन्द्रों पर बच्चों की सेहत तथा सुपोषण पर बाल विकास परियोजना तथा राष्ट्रीय बाल किशोर स्वास्थ्य (आरबीएसके) की टीम विशेष ध्यान देगी।
इन केन्द्रों पर भी शुद्ध पेयजल, शौचालय, पंखा युक्त कमरे, बच्चों को बैठने के लिए छोटी कुर्सियां, एक्टीविटी सामग्री और किताबें, बच्चों की प्रगति जानने के लिए मूल्यांकन कार्ड, वजन मशीन आदि सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी।

चयनित हैं सात कंपोजिट तथा पांच प्राथमिक विद्यालय

सीडीओ ने बताया कि चयनित 12 मॉडल स्कूल्स में सात कंपोजिट तथा पांच प्राथमिक विद्यालय हैं। कंपोजिट विद्यालयों में ऊंटी खास, शेषपुर, गिरहिया, मोहनापुर, बैजनाथपुर, बसंतपुर तथा अमोड़ा के नाम हैं जबकि प्राथमिक विद्यालयों में खजुरिया, धानी द्वितीय,विशुनपुरा, सेमरा डाड़ी तथा परासखांड़ के नाम शामिल हैं।

इन आंगनबाड़ी केन्द्रों का होगा कायाकल्प

सीडीओ ने बताया कि जिन 12 मॉडल आंगनबाड़ी केन्द्रों का कायाकल्प किया जाएगा, उनमें आंगनबाड़ी केन्द्र मथुरा नगर, करमहा, मुंडेला कला, जहदा, मैनहवा व बरवा विद्यापति ( सभी विभागीय भवन में संचालित ) तथा जड़ार, कांध, परसिया बाबू, मेदनीपुर, छपिया व बहोरपुर ( सभी प्राथमिक विद्यालय में संचालित) के नाम शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button