घर-घर दस्तक देंगी आशा व आंगनबाड़ी, खोजेंगी टीबी व बुखार के मरीज

जागरूकता के लिए समुदाय स्तर पर आयोजित करेंगी बैठकें , क्षय रोग के संभावित रोगियों की लाइन लिस्टिंग कर एएनएम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय को उपलब्ध कराएंगी सूची .

कुशीनगर । दिमागी बुखार एवं क्षय रोग नियंत्रण के लिए आगामी 12 जुलाई से 25 जुलाई तक दस्तक पखवाड़ा मनाया जाएगा। इस दौरान आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर दस्तक देंगी तथा टीबी व बुखार के मरीजों को खोजेंगी। कुपोषित बच्चों का भी चिन्हांकन करेंगी। संभावित क्षय रोगियों की लाइन लिस्टिंग कर सूची एएनएम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय को उपलब्ध कराएंगी। इस संबंध में उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वीपी पांडेय ने बताया कि दस्तक पखवाड़ा में विभिन्न गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए फ्रंट लाइन वर्कर्स को विभिन्न स्तरों से प्रशिक्षित भी किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि दस्तक पखवाड़े के दौरान आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए घर-घर जाकर जन समुदाय को दिमागी बुखार, क्षय रोग एवं अन्य संचारी रोगों से बचाव के लिए प्रेरित करेंगी। गृह भ्रमण के दौरान वह प्रमुख स्थानों पर पर स्टीकर भी चस्पा करेंगी। साथ ही यदि कोई बुखार से पीड़ित मिलेगा तो उसे अस्पताल की राह भी दिखाएंगी। घर-घर संपर्क करने के साथ साथ आशा कार्यकर्ता सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर आयोजित गतिविधियों में भी सहयोग करेंगी। मातृ समूह, स्वयं सहायता समूहों की बैठक में गंदगी से दूर रहने तथा स्वच्छ पानी पीने की भी सलाह देंगी। पेयजल को साफ करने के लिए मौके पर क्लोरिनेशन का डेमो भी करेंगी।

यूनिसेफ के डीएमसी शाबाज मिनहाज ने बताया कि दस्तक पखवाड़े को प्रभावी रूप से मनाने के लिए आशा , आंगनबाड़ी व एएनएम के साथ साथ नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्रों के वार्ड एवं ग्राम स्तरीय जन प्रतिनिधियों का भी अभिमुखीकरण किया जा रहा है। आगामी पहली जुलाई से 31 जुलाई तक मनाए जाने वाले विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह तथा दस्तक अभियान में विशेष सहयोग की अपील भी की जा रही है।

जेई/ एईएस के बचने के उपाय

-गंदगी से दूर रहें।
-आसपास जल भराव न होने दें।
-मच्छरदानी का प्रयोग करें।
-पूरी बांह की कमीज पहनें।
-स्वच्छ पेयजल का सेवन करें।
-शौचालय का प्रयोग करें।
-बुखार होने पर चिकित्सक से संपर्क करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button