बलिया में राजनीतिक दबाव में काम कर रहे अधिकारी

बलिया टाईम्स से बोले सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष व पूर्व विधायक , सपा पर मुकदमा दर्ज करने के खिलाफ पूरे प्रदेश में होगा आंदोलन , 2 जुलाई को तय होगी रणनीति

विजय बक्सरी

बलियाः सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष आद्याशंकर यादव व बिल्थरारोड के पूर्व विधायक गोरख पासवान ने बुधवार को कहा कि योगी सरकार में बलिया जनपद के अधिकारी राजनीतिक दबाव में काम कर रहे है और राजनीतिक इशारे पर सपा के नेताओं पर फर्जी मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। जो लोकतंत्रिक देश में अभिव्यक्ति की आजादी छिनने जैसा है। सिकंदरपुर एसडीएम के खिलाफ सपा के पूर्व मंत्री मो. जियाउद्दीन रिजवी के नेतृत्व में सिकंदरपुर व बलिया जिला मुख्यालय पर हुए प्रदर्शन मामले में बलिया में कोतवाली व सिकंदरपुर थाना में अलग-अलग दो मुकदमा दर्ज किया गया। जो गलत व फर्जी है। बलिया टाईम्स से बात करते हुए नेता द्वय ने कहा कि 2 जुलाई को पार्टी की बैठक में बलिया में चल रहे तानाशाही के खिलाफ आंदोलन की रुपरेखा तैयार होगी और पूरे प्रदेश में आंदोलन होगा। पूर्व विधायक गोरख पासवान ने कहा कि बीजेपी नेताओं के दबाव में सपा पर हुआ मुकदमा पूरी तरह से गलत है। बीजेपी सरकार में अब लोकतंत्र की बात ही बेमानी है और यूपी में तो लोगों को अपनी बात कहने का अधिकार भी अब नहीं रहा। जिसके खिलाफ सपा बैठक के बाद आंदोलन हेतु निर्णय लेगी। वहीं लाकडाउन उलंघन संबंधित मुकदमे में अपराधी बनाएं गए पूर्व जिलाध्यक्ष आद्याशंकर यादव ने कहा कि हिटलर की सोच वाली बीजेपी सरकार ने अपने दोहरे मापदंड का प्रमाण दिया है। बलिया में यूपी सीएम में दो तरह के कानून साफ दिख रहे है। बीजेपी के सांसद-विधायक खुलेआम बलिया में कार्यक्रम कर रहे है। इन पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं हो रही है और सपा के कार्यक्रम होने पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। ऐसा दो तरह का तानाशाहीपूर्ण कानून समाजवादी पार्टी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी और पूरे प्रदेश में इसके खिलाफ आंदोलन होगा। बीजेपी से सवाल किया कि बलिया सांसद कार्यक्रम कर रहे है तो लाकडाउन का उलंघन नहीं हो रहा है। बैरिया में बीजेपी के लोग धरना पर बैठ रहे तो जिला प्रशासन को उलंघन का मामला नहीं दिखता और लोकतांत्रिक तरीके से समाजवादी पार्टी के कार्यक्रम होने पर राजनीतिक दबाव में बलिया व सिकंदरपुर में अलग-अलग दो मुकदमे दर्ज किए जा रहे है। जबकि उसी दिन बलिया जिला मुख्यालय पर कांग्रेस व कम्युनिष्ट पार्टी का भी कार्यक्रम हुआ। इन्हें बीजेपी वालों के साथ फूल माला से स्वागत किया जा रहा है। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। बताया कि इसके खिलाफ बलिया जनपद समेत पूरे प्रदेश में आंदोलन होगा। 2 जुलाई को जिला मुख्यालय पर 11 बजे पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक के बाद इसे लेकर अंतिम निर्णय लिया जायेगा। मालूम हो कि गत सोमवार को सिकंदरपुर व बलिया जिला मुख्यालय पर सपा के पूर्व मंत्री जियाउद्दीन रिवजी के नेतृत्व में सिकंदरपुर एसडीएम के खिलाफ जबरदस्त विरोध प्रदर्शन व जुलूस निकला था। मामले में प्रशासन ने देर शाम बलिया कोतवाली व सिकंदरपुर थाना में पूर्व मंत्री समेत कई नामजद व अज्ञात सपा नेताओं के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दिया। जिससे सपा नेताओं में जबरदस्त आक्रोश व्यापत है। इस दौरान सपा नेता मतलूब अख्तर, इरफान अहमद, आनंद यादव, ओमप्रकाश यादव, अंगद यादव, शाहिद समाजवाद, संजय यादव आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button