बृजमनगंज थानाध्यक्ष संजय दुबे द्वारा हत्या का खुलासा 

महाराजगंज। थाना बृजमनगंज पुलिस टीम ने अपराध एवं अपराधियों पर प्रभावी नियंत्रण बनाये रखने हेतु पुलिस अधीक्षक महराजगंज प्रदीप गुप्ता के निर्देशन में व अपर पुलिस अधीक्षक महराजगंज निवेश कटियार के पर्यवेक्षण में आज दिनाक 03.01.2021 को मु0अ0सं0-02/21 धारा 302,201,120बी,34 भा0द0वि0 का सफल अनावरण करते हुए हत्या मे शामिल अभिय़ुक्तगण 1. संजय सिंह पुत्र स्व0 परमहंस सिंह 2. शेरु सिंह उर्फ अभय सिंह पुत्र संजय सिंह 3.अभियुक्ता श्यामा सिंह पुत्री संजय सिंह नि0गण ग्राम बड़ुआ टोला गौरा थाना कैम्पियरगंज जनपद गोरखपुर को गिरफ्तार किया गया। ज्ञात रहे की
दिनांक 28.12.2020 को बृजमनगंज थाना क्षेत्र के सिकंदराजीतपुर बंधे पर एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिलने की सूचना पर पुलिस द्वारा तत्काल मौके पर पहुंचकर मृतक के शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा की कार्यवाही कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। पुलिस टीम द्वारा साक्ष्य संकलन की कार्यवाही की गई। शव की शिनाख्त दुर्विजय गौड़ पुत्र रामप्रसाद निवासी असुरैना टोला कुकेसर थाना परसामलिक जनपद महराजगंज के रूप मे हुई। मृतक के शव के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण थ्रोटलिंग (गला दबाकर हत्या) आया जिसके संबंध में थाना बृजमनगंज पर सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर वैधानिक कार्यवाही की जा रही थी।
घटना के शीघ्र अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक महराजगंज द्वारा क्षेत्राधिकारी फरेंदा के नेतृत्व में टीमों का गठन किया गया जिनके अथक प्रयास से आज थाना बृजमनगंज पुलिस द्वारा हत्या की घटना का सफल अनावरण करते हुए तीन अभियुक्तों संजय सिंह पुत्र स्व0 परमहंस सिंह शेरु सिंह उर्फ अभय सिंह पुत्र संजय सिंह एवं अभियुक्ता श्यामा सिंह पुत्री संजय सिंह को सिकड़ा चौराहा से समय करीब 8:30 बजे गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की है, जिनकी निशानदेही पर हत्या मे प्रयोग किया हुआ एक अदद रस्सी,व एक अदद पल्सर मोटरसाइकिल बरामद कर गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0-02/21 धारा 302,201,120बी,34 भा0द0वि0 का अभियोग पंजीकृत कर अभियुक्तगण को गिरफ्तार कर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही करते हुए जेल भेजा गया।
मृतक दुर्विजय गौड़ अभियुक्त संजय सिंह के साथ मुंबई में ट्रक चलाता था परिचित होने के कारण उसके घर आता-जाता रहता था। इसी दरमियान दुर्विजय का नाजायज संबंध उसकी पुत्री श्यामा से हो गया था। मृतक दुर्विजय फोन से अक्सर श्यामा से बातचीत करता रहता था तथा उसके पिता व भाई की अनुपस्थिति में घर आकर नाजायज संबंध बनाता था। यह बात जब पिता-पुत्र को पता चली तो उनको नागवार गुजरी। दिनांक-27.12.2020 को श्यामा ने दुर्विजय को फोन कर अपने घर बुलाया। दुर्विजय जब पीछे के खिड़की से कमरे में घुसा तो श्यामा के चिल्लाने पर उसके पिता संजय सिंह व भाई शेरू सिंह द्वारा दुर्विजय को दौड़ा कर पकड़ लिया गया तथा मकान के खंभे में रस्सी से बांधकर लाठी-डंडे से मारा पीटा गया। भोर के समय पल्सर मोटरसाइकिल पर संजय सिंह व शेरू सिंह मृतक दुर्विजय को बीच में बैठा कर पीछे चादर ओढ़ाकर कर धानी खड़खड़िया पुल के रास्ते धानी कस्बा होते हुए सिकंदराजीतपुर बंधे पर ले गये तथा रस्सी से गला दबाकर दुर्विजय की बेरहमी से हत्या कर दिए । गले से रस्सी खोलकर कालिका माता स्थान बरगदवा के सामने घास फूस में फेंक दिए । गिरफ्तारी के समय बृजमनगंज थानाध्यक्ष संजय दूबे,उ0नि0 श्रवण शुक्ल,का0 शिवेन्द शाही, का0 सुशील उपाध्याय,का0 रतन जायसवाल,का0 अजय कुमार,म0आ0 विनीता यादव मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button