अज्ञात के विरुद्ध अपहरण व दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज

महाराजगंज। जनपद के श्यामदेउरवा थाना क्षेत्र की 18 वर्षीया एक युवती के साथ दुष्कर्म के मामले में एडीजी दावा शेरपा के हस्तक्षेप के बाद श्यामदेउरवा पुलिस को तीसरे दिन एसआई नथुनी यादव की तहरीर पर अज्ञात के विरुद्ध अपहरण व दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करना पड़ा है। मंगलवार की सुबह अर्धनग्न स्थिति में युवती भटहट कस्बे के एक निजी अस्पताल के बाहर पड़ी मिली थी । युवती ने पांच युवकों द्वारा अपहरण कर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था। तभी से घटना चर्चा में थी परंतु घटना की प्राथमिकी दर्ज करने में पुलिस आनाकानी कर रही थी तथा मामले को लगभग रफा दफा कर दिया गया था। अब एडीजी के हस्तक्षेप के बाद पुलिस कार्रवाई तेजी से आगे बढ़ने की संभावना है।

पीड़िता ने पुलिस को बताया था कि सोमवार की देर शाम को वह घर से निकली थी। गांव से थोड़ी दूर पर पांच युवक मिले जो उसे झांसे में डालकर अपने साथ ले गए तथा अज्ञात स्थान पर ले जाकर नशे में दुष्कर्म किया। सुबह तक हालत खराब होने पर उसे गुलहरिया क्षेत्र के भटहट कस्बे में अर्धनग्न हालत में एक निजी अस्पताल के सामने छोड़ कर फरार हो गए। घटना की जानकारी मिलने के बाद श्यामदेउरवा पुलिस ने मेडिकल कॉलेज जा कर युवती के परिजनों से बातचीत की और पुलिस ने यह कहा कि युवती मानसिक रूप से विक्षिप्त है तथा उसके मां बाप ने मुकदमा दर्ज कराने से इनकार किया है। ऐसी स्थिति में मुकदमा दर्ज नही होने की स्थिति आ गई थी। एक चर्चित और महत्वपूर्ण मामला होने के कारण समाचार पत्रों की खबरों पर पुलिस के उच्चाधिकारियों की नजर थी। डीजीपी कार्यालय द्वारा भी घटना का संज्ञान लिया गया था। घटना की पूरी जानकारी मिलने और पुलिस की निष्क्रियता को देखते हुए एडीजी दावा शेरपा ने पुलिस को कड़ी फटकार लगाई और मुकदमा दर्ज करने को कहा। इसके बाद श्यामदेउरवा थाने के दरोगा नथुनी यादव की तहरीर पर अपहरण और दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button