निचलौल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का चार सालों से बेहतर प्रदर्शन

परिवार नियोजन कार्यक्रम: स्वास्थ्य कर्मियों के लगातार संपर्क तथा विभिन्न तौर तरीके से प्रेरित करने के कारण संसाधन अपनाते हैं लाभार्थी

महराजगंज । बीते चार सालों से परिवार नियोजन कार्यक्रम में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी) निचलौल पूरे जनपद में बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। यह संभव हो पा रहा है स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत तथा लाभार्थियों को विभिन्न तौर-तरीके से प्रेरित करने के कारण। साथ ही उच्चाधिकारियों का कुशल मार्गदर्शन भी काफी सहायक सिद्ध होता है। इस सफलता की वजह से निचलौल सीएचसी को सम्मानित भी किया जा चुका है ।
बात करें पुरूष नसबंदी की तो निचलौल बीते चार सालों से जिले में अव्वल रहा है। वर्ष 2021 में 5, वर्ष 2019-20 में 21,वर्ष 2018-19 में 19 तथा 2017-18 में 32 पुरुष पुरुष नसबंदी करवाने में इस सीएचसी ने सफलता अर्जित की है।  वर्ष 2020-21 में चार पुरूष नसबंदी करवाकर महराजगंज सीएचसी. ने दूसरा स्थान हासिल किया है। वहीं पर मिठौरा, पनियरा, परतावल, बृजमनगंज तथा रतनपुर द्वारा दो-दो तथा लक्ष्मीपुर द्वारा एक पुरुष नसबंदी कराया गया है। इस सफलता के संबंध में निचलौल के ब्लॉक कम्युनिटी प्रोसेस मैनेजर परमेश्वर शाही ने बताया कि जब कोई आशा कार्यकर्ता किसी लाभार्थी को पुरूष नसबंदी के लिए प्रेरित करती है तो पहले कई तरह की समस्या आती है।
इसके बाद उस व्यक्ति से संपर्क करने आशा के साथ संगिनी जाती है। अगर फिर भी बात नहीं बनती है तो उसके बाद ब्लॉक स्तर से बी.सी.पी.एम., बी.पी.एम. एवं चिकित्सा अधिकारी द्वारा एवं आवश्यकता पड़ने पर जिले स्तर से जिला परिवार नियोजन सामग्री प्रबंधक ( डी.एफ.पी.एल.एम.) मुकेश त्रिपाठी, जिला कम्यूनिटी प्रोसेस मैनेजर ( डी.सी.पी.एम.) संदीप पाठक आदि लोगों के द्वारा काउन्सलिंग की जाती है। इसके अलावा ऐसे लाभार्थियों को प्रेरित करने के लिए उन संतुष्ट लाभार्थियों का भी सहयोग लिया जाता है जो पहले पुरूष नसबंदी करा चुके हैं।
उक्त आकड़े की पुष्टि करते हुए परिवार नियोजन कार्यक्रम के जिला परिवार नियोजन एवं सामग्री प्रबंधक मुकेश त्रिपाठी ने बताया कि इतना ही नही वर्ष 2020-21 में निचलौल सीएचसी ने 997 महिलाओं को पी.पी.आई.यू.सी.डी. ( प्रसव पश्चात कापर टी) लगवाकर जिले में प्रथम स्थान हासिल किया हैं । जबकि 907 महिलाओं को पीपीआईयूसीडी लगवाकर सिसवा ने दूसरा तो 905 महिलाओं को पी.पी.आई.यू.सी डी. लगवाकर बृजमनगंज ने तीसरा स्थान हासिल किया है।
इसी प्रकार वर्ष 2019 में 1183 महिलाओं को अंतरा इंजेक्शन लगवाकर तथा 1015 महिलाओं को पी.पी.आई.यू.सी.डी. लगवाकर निचलौल सीएचसी ने जिले में पहला स्थान हासिल किया था।इसी क्रम में वर्ष 2019-20 में 1137 महिलाओं को अंतरा लगवाकर बृजमनगंज ने दूसरा तो 937 महिलाओं को पी.पी.आई.यू.सी.डी. लगवाकर सिसवा सीएचसी ने तीसरा स्थान प्राप्त किया था।

कब कब सम्मानित हुए निचलौल सीएचसी के स्वास्थ्य कर्मी

– वर्ष 2017 में परिवार नियोजन कार्यक्रम अंतर्गत प्रशस्ति पत्र
-वर्ष 2018 में परिवार नियोजन के अंतर्गत निचलौल टीम एवं बीसीपीएम को प्रशस्ति पत्र
-वर्ष 2019 में संयुक्त जिला अस्पताल में बीपीएम व निचलौल को प्रशस्ति पत्र
-वर्ष 2020 में परिवार नियोजन कार्यक्रम में संगिनी रिंकू श्रीवास्तव को मोबाइलाजर के रूप में राज्य स्तर से प्रथम स्थान प्राप्त हुआ ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button