समाचार कवरेज करने गए पत्रकार पर हुआ जानलेवा हमला

महराजगंज। सिसवा कस्बे के मेन मार्केट में रविवार को समाचार कवरेज करने गए पत्रकार मनोज जायसवाल पर लगभग डेढ़ दर्जन की संख्या में व्यापारियों ने जान से मारने की धमकी देते हुए हमला बोल दिया। जिसमें मनोज गंभीर रूप से चोटिल हो गए। पीड़ित की तहरीर पर कोठीभार पुलिस ने देर शाम तक 8 नामजद व 10 अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया।
पत्रकार मनोज जायसवाल के तहरीर के अनुसार उनको सूचना मिली कि सिसवा कस्बे के मेन मार्केट में कुछ कपड़े के दुकानदार लॉकडाउन में कोविड प्रोटोकॉल का उलंघन कर रहे हैं। ऐसे व्यापारी अपनी दुकान के पीछे के दरवाजे से 25 से 30 की संख्या में ग्राहक घुसाकर दुकान का मेन शटर बंदकर दुकानदारी कर रहे हैं। और कोविड प्रोटोकॉल का जमकर उलंघन कर रहे हैं। इस सूचना पर रविवार को जब मनोज समाचार कवरेज करने पहुंचे तो अधिकांश दुकानें खुली हुई मिलीं। उन्होंने जब अपने मोबाइल से फोटो लेने का प्रयास किया तो लगभग डेढ़ दर्जन की संख्या में व्यापारियों ने मनोज के ऊपर जान से मारने की धमकी देते हुए हमला बोल दिया। मौके पर सैकड़ों की भीड़ इकट्ठी हो गई। किसी तरह मनोज वहां से अपनी जान बचाकर भागने में सफल हो गए। कोठीभार पुलिस ने मनोज की तहरीर पर हरिराम भालोटिया, जयप्रकाश भालोटिया, मनोज भालोटिया, मनीष भालोटिया, विनोद सुरेका, दिनेश टिबड़ेवाल, धीरज सिंहानिया, राजेश चौरसिया सहित दस अज्ञात के विरुद्ध आईपीसी की धारा 147, 323, 504, 506, 352 व महामारी अधिनियम 1897 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया है।लॉकडाउन का उलंघन कर रहे दुकानदारो की खबर कवरेज करने गए पत्रकार पर हमले को लेकर स्थानीय पत्रकारों ने इसे निंदनीय बताया। पत्रकार गुफरान अहमद,ओंकार कसेरा, बलराम मिश्रा, दिनेश यादव, सुनील पाठक, राजेश वैश्य, अभिषेक श्रीवास्तव, संदीप मिश्रा,शुभम खरवार,असलम सिद्दीकी ,दीपक कुमार, मनीष कुमार आदि पत्रकारों ने कहा कि मीडिया भी कोरोना वारियर्स की श्रेणी में है। और कोविड प्रोटोकॉल का उलंघन का कवरेज करने गए पत्रकार पर हमला लोकतंत्र पर हमला है। जिसे पत्रकार कत्तई बर्दाश्त नहीं करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button