कोरोना जांच और टीकाकरण बढ़ाने पर शासन प्रशासन का विशेष जोर

करीब साढ़े चार माह में 1.89 लाख से अधिक लोगों ने लगवाया कोविड का टीका। सात जून से आयोजित होगा महिलाओं के लिए विशेष सत्र।

महराजगंज । कोरोना बचाव के लिए शासन और प्रशासन द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। कोरोना जांच के साथ-साथ कोविड टीकाकरण पर भी विशेष जोर है। बीते साढ़े चार माह (16 जनवरी से 4 जून तक ) में जिले में करीब 1.89 लाख लोगों को कोविड का टीका लगाया जा चुका है।अब पहली जून से 18 वर्ष से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.आईए अंसारी ने बताया कि जिले में बीते 16 जनवरी से कोविड टीकाकरण शुरू किया गया। पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीका लगाया गया। इसके तहत लिए जिले में कुल 18790 स्वास्थ्य कर्मी व 18034 फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण हुआ है।

इसके बाद 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 73232 लोगों को टीका लगाया गया। फिर 45 वर्ष से 60 वर्ष आयु वर्ग के लोगों का 75733 लोगो का टीकाकरण हुआ। अब पहली जून से 18-44 वर्ष के लोगों के टीकाकरण के लिए अभियान चलाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से एक और अनूठी पहल हुई है जिसके तहत अभिभावकों के साथ-साथ महिलाओं के टीकाकरण के लिए विशेष टीकाकरण सत्र की व्यवस्था की जा रही है

महिलाओं के लिए भी आयोजित होगा विशेष सत्र

डीआईओ ने बताया कि अभिभावक विशेष टीकाकरण सत्र की भांति अब सात जून से 18-44 वर्ष आयु वर्ग की महिलाओं के लिए भी विशेष टीकाकरण सत्र आयोजित किया जाएगा।

1.51 लाख से अधिक लोगों ने ली पहली डोज

यूएनडीपी के प्रतिनिधि जिला कोल्ड चेन मैनेजर नागेन्द्र कुमार पाण्डेय ने बताया कि जिले में करीब 1.51लाख लोगों ने टीके की पहली डोज तो करीब 38125 लोगों ने दूसरी डोज भी लगवा ली है। वैक्सीन की उपलब्धता, खर्च तथा तापमान की ऑनलाइन मॉनिटरिंग इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलीजेंस नेटवर्क(ईवीआईएन) के माध्यम से की जाती है।

सुबह शाम होती है समीक्षा

कोरोना जांच और कोविड टीकाकरण के संबंध में जिलाधिकारी डॉ.उज्ज्वल कुमार द्वारा सुबह शाम समीक्षा की जाती है। समीक्षा बैठक में सीडीओ गौरव सिंह सोगरवाल, सीएमओ डॉ.अशोक कुमार श्रीवास्तव और जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ.आईए अंसारी प्रमुख रूप से मौजूद रहते हैं।

कोरोना से बचने के लिए यह व्यवहार अपनाएं

-थ्री लेयर मॉस्क पहनें।
-दो गज की दूरी बना कर रखें।
-हाथों को साबुन पानी या सेनेटाइजर से साफ रखें।
-नाक, आंख और मुंह को न छुएं
-खांसते-छींकते समय रूमाल, टिश्यू पेपर या हाथों को कोहनी का इस्तेमाल करें।
-अपनी बारी आने पर कोविड का टीका अवश्य लगवाएं।
– कोविड के लक्षण दिखे तो आइसोलेट होकर जांच एवं इलाज शुरू करें।
-भीड़भाड़ वाले स्थान पर जाने से बचें।
-अगर घर से बाहर निकलना पड़े तो उपरोक्त व्यवहारों को अपनाने के बाद भी घर आकर नहाएं और कपड़े धुल लें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button