दो चरणों में चलेगा ‘‘सघन मिशन इंद्रधनुष’’ अभियान

प्रशिक्षित किए गए एएनएम और आशा कार्यकर्ता, पहला चरण 23 फरवरी तो दूसरा आठ मार्च से चलेगा, कोरोना काल में टीकाकरण से वंचित बच्चों को लगेगा टीका

कुशीनगर : जनपद में सघन मिशन इंद्रधनुष 3.0 अभियान दो चरणों में चलेगा। पहला चरण 23 फरवरी से तो दूसरा चरण 23 मार्च से शुरू होगा। दोनों अभियान तीन-तीन दिन का होगा। इसके लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र तमकूही सभागार में एएनएम, संगिनी और आशा कार्यकर्ताओं को शुक्रवार को प्रशिक्षित किया गया।

प्रशिक्षण में तमकूही सीएचसी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ.अभिषेक वर्मा कहा कि अभियान शुरू होने से पहले संवेदीकरण तथा सर्वे का काम किया जा रहा है। इसी क्रम में यह प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया है। सर्वे का काम आशा कार्यकर्ताओं को सौंपा गया है, जबकि टीकाकरण की जिम्मेदारी एएनएम की है।

टीका उन बच्चों को लगेगा जिन्हें कोविड-19 और लॉकडाउन की वजह से टीका नहीं सका था। उन्होंने बताया कि टीकाकरण का 90 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति के लिए ही शासन ने कुशीनगर जनपद में सघन मिशन इंद्रधनुष 3.0 अभियान चलाने की पहल की है। जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी विनय कुमार नायक ने बताया कि अभियान के पहले चरण में 23 फरवरी तथा एक व दो मार्च को टीका लगेगा। जबकि दूसरे चरण में 23 मार्च तथा पांच व छह अप्रैल को टीका लगेगा।

उन्होंने कहा कि सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान के अलावा जेई टीकाकरण कार्यक्रम भी चलेगा। ऐसे में सभी आशा कार्यकर्ताओं से अपील है कि वह ठीक से सर्वे करें। सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान के शून्य से दो वर्ष तक के बच्चों को चिन्हित किया जाना है ताकि अभियान के दौरान उन्हें टीका लगाया जा सके। टीका लगने से बच्चों का कई बीमारियों से बचाव होगा। प्रशिक्षण कार्यक्रम में अर्चना कुशवाहा, शकुन्तला, नीलम सिंह, सीमा सिंह, बिन्दू, स्वेता गिरी, शांति गौड आदि एएनएम, आशा संगिनी और आशा कार्यकर्ता मौजूद रहीं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button