रुपयों के लालच में की गयी थी हत्या,आरोपी गिरफ्तार

महाराजगंज । 22 मार्च को ग्राम ओवरी चौक के जीवन स्टूडियो के मालिक की हत्या रुपयों के लालच में पिपरा बाबू निवासी एक हत्यारे द्वारा ईट से मारकर की गई थी। हत्या के बाद उसने केबल से हाथ पैर बांधकर सेफ्टी टैंक में डाल दिया था। यह हत्याकांड काफी चर्चित हुआ था। हत्यारे ने स्टूडियो का सामान लेदी जंगल मे छिपा दिया था। सामान लेने जाने पर पुलिस ने उसे लेदी जंगल मे सती माई के स्थान से दबोच लिया। यह जानकारी अपर पुलिस अधीक्षक निवेश कटियार ने एक प्रेस वार्ता में दी।

इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 22 मार्च की रात को मृतक जितेन्द्र पुत्र रमेश प्रजापति निवासी नौनिया पोस्ट गड़ौरा का शव ग्राम ओबरी चौक रोड पर जीवन फिल्म स्टूडियो के पास केबिल के तार से हाथ पैर व मुंह बंधा हुआ सेफ्टी टैंक में पाया गया था । शुक्रवार को प्रभारी निरीक्षक निचलौल निर्भय कुमार सिंह को हत्यारे के संबंध में सूचना मिली। इस सचना पर पुलिस ने एक संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत मेंं ले लिया। उसने अपना नाम अभिषेक प्रजापति निवासी ग्राम पिपरा बाबू थाना कोतवाली सदर बताया। उसने बताया कि रात मे ओबरी चौक रोड पर स्थित जीवन फिल्म स्टूडियो के मालिक जितेन्द्र पुत्र रमेश प्रजापति की हत्या ईट से मारकर उसके पास मौजूद रुपये के लालच में किया था तथा लाश को केबिल के तार से हाथ पैर व मुंह बाँधकर दुकान के पास सेफ्टी टैंक में छिपा दिया था और इसके स्टूडियो का सारा सामान लेदी जंगल में छिपा दिया था। मौका पाकर सामान को बेचने के लिए ले जाने वाला था। उसके पास से एक पीली धातु की अंगुठी, 84 000.00 रुपये कैश,जीवन फिल्म स्टूडियो के उपकरण,हत्या में प्रयुक्त खूनालूदा एक अदद ईंट, एक छोटा गत्ता में 3 अदद ईयर फोन,यूपीएस एक अदद,एक अदद डेस्कटाप,किबोर्ड,माउस व केबल तार तथा आडियो मिक्सिंग मशीन बरामद हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button