मटर तस्करी के खेल में पुलिस फेल

महाराजगंज। स्थानीय सुरक्षा बलों सहित पुलिस की आंखों में धूल झोंककर न सिर्फ नेपाल से मटर की तस्करी हो रही है, बल्कि यह तस्कर सड़कों पर चलने वाले राहगीरों के लिए भी काल साबित हो रहे हैं। रविवार को भी जब मटर तस्करों की पिकअप ने निचलौल-सिसवा मार्ग पर कार को ठोकर मार कर खुद पलट गई, तब मटर तस्करी के धंधे के जारी होने का पता चला।

भारत-नेपाल की सीमा कोरोना को लेकर भले ही सील है, लेकिन सीमा पार से पगडंडियों के रास्ते होने वाले आवागमन की सच्चाई किसी से छिपी नहीं है। अभी पिछले ही दिनों इसी को लेकर नेपाल पुलिस की गोली से एक नेपाली नागरिक की मौत भी हो गई थी। सीमा सील होने के बावजूद पगडंडियों के रास्तों का फायदा उठाकर यह तस्कर आपदा के इस समय में भी अपने कार्यों को अंजाम दे रहे हैं। रात के अंधेरे में यह तस्कर पहले साइकिल से मटर की बोरियों को बार्डर पार कराते हैं, फिर वहां से पिकअप व अन्य बड़े वाहनों पर लादकर अपनी मंजिलों तक पहुंचा देते हैं। इन क्षेत्रों से हो रही मटर की तस्करी कुट्टीटोला, धमउर होते अमडी टोला लेजाया जा रहा है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button