प्रदेश में टीकाकरण के ड्राई रन की तैयारियां हुई तेज

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य ने लिखा कमिश्नर और डीएम पत्र ,पांच जनवरी को सूबे के हर जिले में छह-छह स्थानों पर किया जाएगा कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) .

लखनऊ : सूबे की राजधानी लखनऊ में सफलता के साथ कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को परखने के बाद अब पांच जनवरी को प्रदेश के सभी 75 जिलों के छह-छह स्थानों पर कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा। हर जिले के छह स्थानों में से तीन शहरी और तीन स्थान ग्रामीण क्षेत्रों में होंगा यह ड्राई रन । इस कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) को फूलप्रूफ बनाने के लिए राज्य के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने सभी मंडलायुक्त (कमीश्नर) और जिलाधिकारियों (डीएम) को पत्र लिखा है।

राज्य में पहले चरण के दौरान नौ लाख स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होना है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीकाकरण की फूलप्रूफ व्यवस्था करने के निर्देश दिए हुए हैं। जिसके तहत ही शनिवार लखनऊ में कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को परखा गया और अब पांच जनवरी को प्रदेश के सभी 75 जिलों के छह-छह स्थानों पर कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा। यह अभियान सफलता के साथ पूरा हो, इसके लिए सूबे के सभी सभी मंडलायुक्त और जिलाधिकारियों को भेजे गए पत्र में लिखा गया है कि कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) को फूलप्रूफ बनाने के लिए क्या -क्या किया जाना है? टीकाकरण के ड्राई रन के लिए किन बातों का विशेष ध्यान रखना है और क्या व्यवस्था की जानी है? पत्र में इसका विस्तार से उल्लेख किया गया है। इसके अनुसार ही मण्डलायुक्त तथा जिलाधिकारियों को जिले में कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) को फूलप्रूफ बनाने के इंतजाम करने को कहा गया है।

इस पत्र के अनुसार, कोरोना टीकाकरण अभियान के ड्राई रन को फूलप्रूफ बनाने के लिए सभी मण्डलायुक्त तथा जिलाधिकारियों को उन स्थलों का निरीक्षण करने तथा वहां टीकाकरण के लिए सीरिंज आदि समय पर पहुँच जाएं, इसे सुनिश्चित करने को कहा गया है। जिले में टीकाकरण के लिए चिन्हित हुए स्थल पर टीकाकरण कक्ष तथा लोगों के बैठने आदि की उचित व्यवस्था करने को कहा गया है। टीकाकरण करने वाले टीम को टीकाकरण स्थल पर 45 मिनट पहले अर्थात सुबह 9.15 बजे पहुचने की व्यवस्था करने को कहा गया है। ड्राई रन सुबह 10 बजे शुरू होगा और तब तक जारी रहेगा जब तक सभी लाभार्थी उपस्थित नहीं हो जाते। अधिकारियों को कहा गया है कि वैक्सीन, सीरिंज, एईएफआई किट और अन्य लॉजिस्टिक्स समय में सत्र स्थल तक पहुंचे, इसकी व्यवस्था
सुनिश्चित की जाए।

पत्र में लिखा गया है कि इस टीकाकरण अभियान में कोई बाधा ना उत्पन्न होने पाए इसके लिए सेक्टर अधिकारियों को नियुक्त करना अच्छा होगा, जैसा कि चुनाव के दौरान किया जाता है। ऐसे अधिकारियों की देखरेख में ड्राईरन समय पर शुरू हो। टीकाकरण के लिए लोग समय पर पहुंचे इसके लिए उन्हें समय से सूचित किया जाए। सेक्टर अधिकारी एक दिन पहले साइटों का निरीक्षण करे यह भी सुनिश्चित करने को कहा गया है। टीकाकरण के लिए वैक्सीन की सुरक्षा एवं भंडारण, साइट पर परिवहन की व्यवस्था भी टीकाकरण के दौरान सुनिश्चित करने को कहा गया है। कोरोना टीकाकरण के इस ड्राईरन के दौरान कर्मचारियों की कार्यक्षमता, टीकाकरण केंद्र की व्यवस्था, मरीज के पंजीकरण, टीका लगाने के तरीके आदि का आंकलन किया जा सकेगा। यदि कहीं कोई कमियां दिखी तो उसे समय पर सुधार लिया जाएगा। कोरोना टीकाकरण के इस ड्राईरन को सफलता के साथ पूरा करने के लिए सरकार के स्तर से युद्धस्तर पर प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में यह पत्र लिखा गया है ताकि कहीं किसी स्तर पर कोई कमी ना रहने पाए ।

पांच जनवरी को छह टीकाकरण केंद्रों पर होगा कोविड टीकाकरण का पूर्वाभ्यास

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके श्रीवास्तव ने लिया तैयारियों का जायजा

महराजगंज , कोरोना टीकाकरण की तैयारियां जोरों पर हैं । हालांकि टीकाकरण की तिथि अभी निर्धारित नहीं हुई है। टीकाकरण के लिए पांच जनवरी को छह टीकाकरण केन्द्रों पर पूर्वाभ्यास ( ड्राई रन) होगा। जिन छह केन्द्रों पर पूर्वाभ्यास होगा इनमें तीन शहरी व तीन ग्रामीण केन्द्र के नाम हैं। पूर्वाभ्यास के लिए लोगों की को जिम्मेदारियां तय कर दी गयी हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अशोक कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि पहले जिन स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण ( पूर्वाभ्यास) होगा, उनके नाम व मोबाइल नंबर कोविन पोर्टल पर अपलोड हो चुके हैं।  उन्होंने कहा पूर्वाभ्यास के लिए लगाए गए सभी कर्मचारी पांच जनवरी को अपने तैनाती केन्द्र पर 45 मिनट पहले पहुँच जाएं तथा अपने दायित्वों का पूर्ण निर्वहन करें। सीएमओ ने बताया कि केन्द्र पर प्रतीक्षालय, टीकाकरण कक्ष, आब्जर्वेशन कक्ष तथा एईएफआई( टीकाकरण के बाद प्रतिकूल प्रभाव से निपटने की व्यवस्था) सुनिश्चित की गयी है। केन्द्र पर आवश्यक सामग्री की व्यवस्था केन्द्र के नोडल आफिसर के माध्यम से सुरक्षित करायी जायेगी।

ड्राई रन( पूर्वाभ्यास) पर खास-खास

-प्रत्येक केन्द्र पर होगी छह लोगों की तैनाती
-हर केन्द्र पर नामित होंगे नोडल अधिकारी
-हर केन्द्र पर आरक्षित होगा तीन कमरा।
-कोल्ड चेन प्वांइट से केंद्र तक वैक्सीन पहुँचाने का भी होगा रिहर्सल
-टीकाकरण के साइड इफेक्ट्स को जानने के लिए उपस्थित रहेगी चिकित्सकों की टीम

इन छह स्थानों पर होगा पूर्वाभ्यास

शहरी क्षेत्र

जिला अस्पताल (एमसीएच विंग), सदर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र , केएमसी डिजिटल हॉस्पिटल

ग्रामीण क्षेत्र

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नौतनवा , बृजमनगंज तथा निचलौल

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button