प्रदेश में अपराध और अपराधियों का बोलबाला, कानून का राज किताबो में सिमटा: अजय

लखनऊ । उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रदेश में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं पर योगी सरकार को घेरते हुए कहा है कि योगी के राम राज्य में कानून का राज खत्म हो चुका है। अपराधी मस्त हैं और प्रदेश की जनता त्राहि माम कर रही है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि आज समूचे प्रदेश में अपराध ओर अपराधियों का बोलबाला हो चुका है। कानून का राज खत्म हो चुका है। प्रदेश में जहां नाबालिग बच्चियों के साथ बलात्कार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं वहीं योगी आदित्यनाथ सबकुछ ठीक होने का झूठा दावा कर रहे है। उन्होंने कहा कि कौशाम्बी में नाबालिग से रेप के बाद हत्या कर दी जाती है। इससे पूर्व इस तरह की घटनाएं आजमगढ़, गोरखपुर, लखीमपुर, सीतापुर आदि जिलों में हो चुकी हैं लेकिन इससे सरकार ने सबक नहीं सीखा और अपराधियों के पर प्रभावी कार्यवाही तक नहीं की।

अजय कुमार लल्लू ने आगे कहा कि आज सुबह तक कौशाम्बी में नाबालिग के साथ रेप के साथ हत्या, बिजनौर में युवक की गोली मारकर हत्या, रायबरेली में बेटे के सामने किसान की धारदार हथियार से हत्या, हरदोई में अपहृत भाई बहन तीन दिन बाद मृत मिले, फरुर्खाबाद में पूर्व प्रधान की गोली मार कर हत्या, झांसी में महिला का हाथ काटा गया, मथुरा में बदमाशों ने लाखों का सोना लूटा और श्रावस्ती जिले में पुलिस की हिरासत में युवक की बर्बर पिटाई से मौत और बलिया में पुलिस द्वारा युवक की बर्बर पिटाई, देवरिया में व्यक्ति की गोली मारकर हत्या, मथुरा में रेप के बाद आठ साल की बच्ची की हत्या के बाद साफ हो चुका है कि प्रदेश में कानून का राज नहीं रह गया है।

अजय कुमार लल्लू ने आगे कहा कि प्रदेश में महोबा, आगरा, रायबरेली, हरदोई, गोरखपुर में दलितों ओर पिछड़ों का उत्पीड़न हो रहा है। लेकिन सरकार इस तबके की सुरक्षा को लेकर संजीदा कतई नहीं दिखती है। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अपराधियों का मनोबल इसलिए बढ़ गया है क्योंकि उन्हें सत्ता और भाजपा का संरक्षण हासिल है। योगी सरकार आम आवाम की बात करने वाले राजनैतिक कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमें दर्ज करके जनता को आतंकित करने का प्रयास कर रही है। उन्होने कहा कि नाम बदलने वाले मुख्यमंत्री योगी ने सदन में अपराध को विकास बना दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button