अपनी मांगों को लेकर उत्तर प्रदेश ग्राम रोजगार सेवक संघ ने किया सांसद आवास का घेराव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश ग्राम रोजगार सेवक संघ के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश सिंह के आह्वान पर बुधवार को प्रदेश के समस्त जिला अध्यक्ष और ब्लाक अध्यक्षों ने अपनी मांगों को लेकर लखनऊ में डेरा डाल दिया है। मोहनलालगंज के सांसद कौशल किशोर के आवास का घेराव कर 22 जनवरी के महासम्मेलन में ग्राम रोजगार सेवकों से किये गये ।बादों को लेकर अभी तक कोई भी शासनादेश नहीं जारी किया गया। जिससे आक्रोशित ग्राम रोजगार सेवकों ने लखनऊ में डेरा डाल रखा है। ग्राम्य विकास विभाग के मंत्री मोती सिंह ने घोषणा किया था कि ग्राम रोजगार सेवकों का मानदेय दस हजार रूपये करने और ई पी एफ कटौती, एच आर पालिसी सहित कई अन्य सुविधाएं इन लोगों को जल्द ही दिलाने के लिए शासनादेश जारी करने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन अभी तक कोई भी शासनादेश नहीं जारी किया गया। प्रदेश प्रभारी ने बताया कि मनरेगा में मेट का चयन करना संवैधानिक नहीं है।एक्ट के अनुसार ग्राम पंचायतों को है। जेम पोर्टल से मनरेगा कर्मियों को अलग रखा जाए। क्योंकि इस पर प्रासंगिक मद का दुरूपयोग बढ़ेगा। और कर्मचारियों में असंतोष बढ़ेगा। वहीं सांसद कौशल किशोर ने कहा कि हमारी सरकार ने जो वादा किया है वह जरूर पूरा करेगी।आप लोगों की मांगें जायज है। मंत्री जी से बात हुई है जल्द ही शासनादेश जारी किया जाएगा। उपस्थित ग्राम रोजगार सेवकों में राष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु प्रताप सिंह, संतोष शुक्ला,रामू निषाद,, ब्रह्मानन्द, चन्द्रशेखर रावत, अनिल शर्मा, संजय सोनकर, मनमोहन, अनिल द्विवेदी,सहीत, सैकड़ों की संख्या में ग्राम रोजगार सेवक उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button